Frystudy.com

Best free website for online padhai for class 1st to 12th class. online padhai kaise kare | frystudy.com

  1. Home
  2. /
  3. विज्ञान
  4. /
  5. मीटर सेतु का सिद्धांत क्या है? Download PDF

मीटर सेतु का सिद्धांत क्या है? Download PDF

मीटर ब्रिज, जिसे स्लाइड वायर ब्रिज के रूप में भी जाना जाता है, एक ऐसा उपकरण है जो व्हीटस्टोन ब्रिज आइडिया पर काम करता है। एक कंडक्टर के अज्ञात प्रतिरोध को खोजने के लिए मीटर ब्रिज का उपयोग किया जाता है। भौतिकी में, जबकि सिद्धांत हमारे ज्ञान का आधार है, व्यावहारिक हमारी समझ का निर्माण करते हैं।

हमें एक ही कारण से स्कूल प्रयोगशालाओं में कई प्रयोग करने के लिए मजबूर किया जाता है। अक्सर हम अपनी व्यावहारिक प्रयोगशालाओं में एक सेट-अप पाते हैं जिसके चारों ओर हम एक गैल्वेनोमीटर, प्रतिरोध बॉक्स और एक स्विच पा सकते हैं। यह उपकरण क्या है? यह एक मीटर ब्रिज है! इसमें एक मीटर का तार होता है, इसलिए इसे ‘मीटर ब्रिज’ कहा जाता है। इसका उपयोग तारों, कॉइल या किसी अन्य सामग्री के प्रतिरोध को मापने के लिए किया जाता है।
मीटर ब्रिज सिद्धांत व्हीटस्टोन ब्रिज सर्किट पर आधारित है जो कहता है कि यदि किसी बिंदु या लंबाई (एक तार की) पर, दो प्रतिरोधों (जैसे R1 और R2) का अनुपात अन्य दो प्रतिरोधों के अनुपात के बराबर है (जैसे R3 और R4 जहां R4 अज्ञात प्रतिरोध है), तो उस पर करंट का कोई प्रवाह नहीं होगा।

इन्हें भी पढ़ें: मीटर सेतु का सिद्धांत क्या है

Leave a Reply

Your email address will not be published.